Wednesday, February 8, 2017

Dard

"दर्द अगर काजल होता तो आँखों में लगा लेते;
दर्द अगर आँचल होता तो अपने सर पर सजा लेते;

दर्द अगर समुंदर होता तो दिल को हम साहिल बना लेते;
और दर्द अगर तेरी मोहब्बत होती तो उसको चाहत-ऐ ला हासिल बना लेते।


No comments:

Post a Comment

Success

अभी काँच हूँ  इसलिए सबको चुभता हूँ,   ♦जिस_दिन☝🕵   आइना बन_जाऊँगा , उस दिन  पूरी दुनियाँ देखेगी ...!!